HOME

We look forward to serving society

हमारा उद्देश्य

समाज के सामाजिक शैक्षणिक एवं आर्थिक रूप से पिछड़े वंचित एवं उपेक्षित बंधुओं का विकास कर उन्हें आत्मनिर्भर स्वाभिमानी, स्वावलंबी बनाकर स्वस्थ समरस एवं संगठित समाज का निर्माण करना है।
सभी सेवा कार्य संप्रदाय, जाति, वर्ग, प्रांत, भाषा, मत-मतातर आदि बिना कोई भेदभाव से चलाकर, राष्ट्र भाव के प्रति आस्था एवं रुचि उत्पन्न करना । किसी भी प्रकार की देवीय आपदा जैसे बाढ़, भूकंप, अकाल, अग्निकांड, महामारी आदि में भी यथासंभव सहयोग करना ।
सांगठनिक एवं प्रशासनिक संरचना
सेवा भारती समिति राजस्थान का पंजीकृत कार्यालय सेवा सदन  लालकोठी योजना, सहकार मार्ग, सहकार लैन, जयपुर-302015 है। राजस्थान के पंजीकरण विभाग के पंजीयन क्रमांक 106/राजस्थान 1987-88 दिनांक 16 जुलाई, 1987 के अंतर्गत पंजीकृत है। आयकर विभाग से 80जी के अंतर्गत छूट आदेश क्रमांक आयुक्त (वसूली) 80जी/831/2007-2008 दिनांक 24-8-2007 के द्वारा लगातार जारी है। संस्था का पैन नंबर AABTS4114N है।
प्रशासन की दृष्टि से राजस्थान के 33 जिलों को 3 प्रांत 20 विभाग, 71 जिले 7 महानगर एवं सभी खंड तहसील केंद्रों में समितियों/उपसमितियां गठित है। संभाग एवं जिलों की सभी पंजीकृत समितियां सम्बद्ध है। नगरों में 1431 सेवा बस्ती है तथा ग्रामीण क्षेत्रों के प्रत्येक ग्राम को अंतिम कार्य स्थान की तरह निश्चित किया हुआ है।
विभिन्न स्तरों पर नियमित अंतराल से होने वाली बैठक प्रशिक्षण वर्ग द्वारा एवं अधिकारियों के नियमित प्रवास से कार्य एवं कार्यकर्ताओं के समुचित सम्भाल हो रही है।

Vision​

The making of a strong and empowered society is possible only when each of its sections gets equal rights to growth and opportunity. A homogeneous society can be created by making educated, suppressed, and backward brethren self-supporting and empowered. Sewa Bharati works tirelessly and relentlessly towards the realization of this vision.

सेवा” ईश्वर भक्ति का प्रथम सोपान एवं देशभक्ति का प्रकट स्वरूप है| इस कार्य में आप भी सामर्थ्य अनुसार सहयोग करें|

Sewa Bharti Mass Wedding ceremony

Sewa Darshan

"केवल सेवा से ही समाज में सकारात्मक परिवर्तन लाया जा सकता है | दरिद्र नारायण की सेवा ही सच्ची सेवा है| जो पिछड़ गए है उनको आगे लाना ही हमारा धर्म है|"
श्री निम्बाराम
क्षेत्र प्रचारक राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, राजस्थान

“सेवा” ईश्वर भक्ति का प्रथम सोपान एवं देशभक्ति का प्रकट स्वरूप है| इस कार्य में आप भी सामर्थ्य अनुसार सहयोग करें|

हम सेवक हैं मानवता के सेवा धर्म हमारा है   |

  •  विद्यार्थियों की पाठ्यसामग्री,ड्रेस,जरुरतमंदों को वस्त्र एवं ओषधि देकर |
  • अपने घर परिवार के मांगलिक अवसरों पर मंगल निधि प्रदान कर |
  • सेवा कार्यों व संगठन हेतु समय दान कर |
  • वानप्रस्थी के रूप में सेवा कार्यों से जुड़कर |
  • किसी एक सेवा कार्य के पालक बन कर |
  • नव सेवा सरोज मासिक पत्रिका (प्रसार संख्या 10000) के वार्षिक सदस्य 80रुपये,पन्द्रह वर्षीय सदस्य 800 रुपये एवं पत्रिका में विज्ञापन देकर |
  • सेवा निधि *सेवा भारती समिति राजस्थान* नाम से चैक  अथवा  बैंक खाते में राशी जमा कराकर अपना नाम,पता मोबाईल न०,पैन न० पोस्टल पिन कोड के साथ बैंक द्वारा जारी जमा रसीद की फोटो प्रति सेवा भारती समिति राजस्थान के कार्यालय में  भेजें; जिससे दानदाता को पावती की रसीद भिजवाई जा सके |

  • दान राशि जमा कराने के लिए बैंक विवरण:-
  •  बैंक का नाम :-  स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया ,ज्योति नगर जयपुर 
  • खाते  का नाम :- सेवा भारती समिति राजस्थान,जयपुर 
  • खाता स० :- 61041857746        IFSC CODE :-  SBIN0010548 

सेवा भारती समिति राजस्थान को दिया गया आर्थिक सहयोग आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80G के अन्तर्गत आयकर से मुक्त है |

सम्पर्क सूत्र:- 
सेवा भारती समिति राजस्थान 
सेवा सदन, सहकार मार्ग, लालकोठी योजना, जयपुर-302015 

फोन :         0141 2740799 
Email :        [email protected]
Web :          www.sewabhartirajasthan.org
Twitter :      https://twitter.com/sewa_bharti 
YUVA SANYASHI

जब तक लाखों लोग भूखे और अज्ञानी हैं, तब तक मैं उस व्यक्ति को कृतघ्न मानता हूँ जो उनके बल पर शिक्षित बना और अब उनकी और ध्यान नहीं देता है |

 ” I DREAM OF A STRONG AND PROSPEROUS BHARAT”     

स्वामी विवेकानन्द

महान युवा सन्यासी